7 मार्च को शादी थी… मेजर ने जल्द घर लौटने का किया था वादा

7 मार्च को शादी थी… मेजर ने जल्द घर लौटने का किया था वादा

7 मार्च को होनी थी मेजर चित्रेश बिष्ट की शादी।

मेजर चित्रेश बिष्ट की 7 मार्च को शादी थी। एक युवा जिसने सपने देखने भी शुरू नहीं किये थे, आतंकवाद का शिकार हो गया। जम्मू-कश्मीर में LOC पर नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान की तरफ से बिछाई गई IED को डिफ्यूज करते समय मेजर चित्रेश बिष्ट शहीद हो गए।

जम्मू-कश्मीर में कुछ घंटों पहले LOC पर राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान की तरफ से बिछाई गई IED को डिफ्यूज करते समय एक IED में हुए विस्फोट में सेना के मेजर चित्रेश बिष्ट शहीद हो गए हैं। विस्फोट में एक अन्य जवान घायल हो गया, जिसे एयरलिफ्ट कर इलाज के लिए उधमपुर कमान अस्पताल भेजा गया है। सैन्य प्रवक्ता ने भी IED ब्लास्ट में एक मेजर के शहीद तथा एक जवान के घायल होने की पुष्टि की है।

शहीद मेजर चित्रश बिष्ट।

पाकिस्तान की ओर सेक्टर के लाम झंगड़ इलाके के सरैया क्षेत्र में लगाई गई IED का पता चलने के बाद सेना की ओर से इसे डिफ्यूज किया जा रहा था। जिनमें से तीन IED को सफलतापूर्वक डिफ्यूज कर लिया गया था, लेकिन चौथे IED को डिफ्यूज करते समय इसमें ब्लास्ट हो गया और इंजीनियरिंग विभाग के मेजर चित्रेश बिष्ट शहीद हो गए। वह 21जीआर में तैनात थे।
देहरादून की नेहरू कॉलोनी में उनका निवास था। मिली जानकारी में मेजर चित्रेश बिष्ट अगले माह 7 मार्च को विवाह बंधन में बंधने वाले थे। शहीद चित्रेश के पिता उत्तराखंड पुलिस में इंस्पेक्टर के पद पर थे। जो दो साल पहले ही रिटायर हुए हैं।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *