विकास में पिछड़ते गांव और बढ़ता आर्थिक असंतुलन

शिरीष खरे विशेष तौर पर सत्तर के दशक में गांवों के लिए कई परियोजनाएं और कार्यक्रम चलाए गए। इसके पीछे

और पढ़ें >

हाइब्रिड बीज का मायाजाल और किसानों की दुर्दशा

ब्रह्मानंद ठाकुर मनकचोटन भाई के दलान पर सांझ होते ही हमेशा की तरह  आज भी टोला के लोगों का जुटान होने

और पढ़ें >

सुकराती पर्व की सोन्ही यादें और बैलों की घंटी का संगीत 

ब्रह्मानंद ठाकुर इस दुनिया मे चिरंतन ,शाश्वत और अपरिवर्तनशील कुछ भी नहीं है। वस्तुजगत का कण – कण परिवर्तनशील है।

और पढ़ें >

मुजफ्फरपुर जिले के सभी प्रखंडों को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग

बदलाव प्रतिनिधि, मुजफ्फरपुर जिले के प्रगतिशील किसानों की बैठक 22 अक्टूबर को शहीद खुदीराम बोस – प्रफुल्ल चाकी स्मारक स्थल

और पढ़ें >

प्रधानमंत्री की योजना के नाम पर बेटियों से ठगी

ब्रह्मानंद ठाकुर प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना और प्रधानमंत्री आयुष्यमान भारत योजना में ग्रामीण शिक्षित बेरोजगार युवकों को नौकरी के नाम

और पढ़ें >

1 3 4 5 6 7 17