रुकतापुर- विकास की आंकाक्षा का ‘चलतापुर’

नीलू अग्रवाल रुकतापुर एक रिपोर्टर की ऐसी डायरी है जो कोशी- सीमांचल में घूमते हुए देखे -अनदेखे, सुने – अनसुने,वहां

और पढ़ें >

कृषि कानून पर सरकार की दलील और किसानों की आशंकाओं को समझिए

ब्रह्मानंद ठाकुर देश के किसान एक महीने से दिल्ली दरबार की दहलीज पर आंदोलन कर रहे हैं। सर्द मौसम में

और पढ़ें >

42 सालों से विकास की राह देखता बिहार का एक गांव

हुसैन ताबिश की रिपोर्ट इंतजार किसे कहते हैं और इसका दर्द क्या होता है, अगर ये महसूस करते हो तो

और पढ़ें >

स्वास्थ्य और शिक्षा मुद्दा क्यों नहीं चुनाव में ?

ब्रह्मानंद ठाकुर  बिहार की आबादी करीब 12 करोड है। यहां डाक्टरों के 11 हजार  373 पद  सृजित हैं  लेकिन लगभग

और पढ़ें >

कोरोना नहीं हमारा सिस्टम है पत्रकार चंद्रशेखर की मौत का जिम्मेदार !

एक गरीब परिवार का लड़का कुछ सपने लेकर गांव से शहर की गलियों में आया था । पत्रकार बनकर समाज

और पढ़ें >

चंद्रशेखर और हुमा की मौत अब हमारे लिए कोरोना का सिर्फ नंबर नहीं

प्रभाकर मिश्रा के फेसबुक वॉल से साभार आज मन बहुत उदास है। बहुत डर लग रहा है। पहले खबर आ

और पढ़ें >

अन्नदाता से न्यूनतम समर्थन मूल्य का अधिकतम सरकारी छलावा

पुष्यमित्र बारिश से गीली हुई सुबह में जब टहलने निकला तो एक मैदान में मक्के यह ढेर पड़ा मिला। साफ

और पढ़ें >

पूर्णिया के डीएम, एसपी, अधिकारियों, सांसद, विधायक के नाम एक पाती

कोरोना का संकट काल और इस बीच अहंकार की लड़ाई। सुनकर आपको अचरज जरूर होगा लेकिन बिहार के पूर्णिया जिले

और पढ़ें >

1 2 3 32