रायपुर में 26 को विनय तरुण स्मृति व्याख्यान

ये दिल्ली में विनय स्मृति व्याख्यान की तस्वीर है। साल 2014 का जमावड़ा।
ये दिल्ली में विनय स्मृति व्याख्यान की तस्वीर है। साल 2014 का जमावड़ा।

रायपुर में विनय स्मृति आयोजन का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। फेसबुक पर क्रिएट किया गया इवेंट भी अब बार-बार स्क्रीन पर नज़र आने लगा है। ‘विनय के दोस्त’ के व्हाट्स एप खाते पर भी संदेश लगातार आ रहे हैं। रूपेश और रामकृष्ण डोंगरे लगातार साथियों को कार्यक्रम की सूचना दे रहे हैं। कौन-कौन वक्ता आ रहे हैं, कार्यक्रम कहां है और कहां ठहरना है, ये तमाम सूचनाएं एक छोटे से अलर्ट साउंड के साथ फोन पर आ रही हैं। विनय की यादों के साथ एक और दिन गुजारने की तमन्ना लिए कई साथियों ने अपनी यात्रा का खाका तैयार कर लिया है।

वरिष्ठ पत्रकार रामशरण जोशी, रायपुर में विनय स्मृति व्याख्यान में शिरकत करेंगे।
वरिष्ठ पत्रकार रामशरण जोशी, रायपुर में विनय स्मृति व्याख्यान में शिरकत करेंगे।

26 जून को रायपुर में साथियों का मिलना तय हुआ है। इस बार परिचर्चा का विषय- आदिवासी और हमारी पत्रकारिता रखा गया है। रायपुर प्रेस क्लब में 26 जून की सुबह 11 बजे से विनय तरुण स्मृति व्याख्यानमाला का 7वां आयोजन हो रहा है। कार्यक्रम प्रगतिशील मीडियाकर्मियों और संस्कृतिकर्मियों के संगठन दस्तक और कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता विवि के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित होगा। इस कार्यक्रम के मुख्यअतिथि वरिष्ठ पत्रकार और प्रोफेसर रामशरण जोशी होंगे।उनके हामी भरने से साथियों का उत्साह दोगुना हो गया है। वो विनय तरुण के अध्यापक भी रहे हैं।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कुशाभाऊ ठाकरे विवि के कुलपति डॉ. एमएस परमार करेंगे। बस्तर के पत्रकार मंगल कुंजाम, वरिष्ठ पत्रकार दिवाकर मुक्तिबोध, गौतम बंद्योपाध्याय बतौर वक्ता इस विषय पर अपने विचार रखेंगे। इसके अलावा स्थानीय अखबारों के कई संपादकों के भी विशेष अतिथि के तौर पर कार्यक्रम में मौजूद रहने की उम्मीद है।  कार्यक्रम के संचालन का जिम्मा डॉक्टर पुष्पेंद्र पाल सिंह संभालेंगे।

vinay tarunयह कार्यक्रम माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विवि, भोपाल के छात्र और पत्रकार स्वर्गीय विनय तरुण की स्मृति में होता है। इससे पहले यह आयोजन दिल्ली, भोपाल, मुजफ्फरनगर, मधेपुरा, पूर्णिया समेत कई शहरों में हो चुका है। गौरतलब है कि कर्मठ और प्रगतिशील सोच के युवा पत्रकार स्व. विनय तरुण का जन्म बिहार के पूर्णिया जिले में 20 अगस्त 1978 को हुआ था। उन्होंने माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय से 1999-2002 बैच में बैचलर ऑफ जर्नलिज्म की पढ़ाई की थी। मात्र 32 साल की उम्र में 22 जून, 2010 को ट्रेन हादसे में उनकी असामयिक मौत हो गई थी। वे भोपाल, जमशेदपुर, भागलपुर समेत कई शहरों में विभिन्न अखबारों से जुड़े रहे।

कार्यक्रम में शामिल होने वाले विनय तरुण के साथियों में यूं तो कई नाम हैं, लेकिन जिन्होंने रायपुर पहुंचने की पुष्टि कर दी है- उनमें जमशेदपुर से रंजीत कुमार सिंह और अखिलेश्वर पांडेय, दिल्ली से पशुपति शर्मा, सत्येंद्र कुमार और भोपाल से राकेश मालवीय और अरविंद मिश्रा का नाम शुमार है। इसके अलावा बाल्को से दीपक विश्वकर्मा, सरगुजा से मनीष कुमार और अमित कुमार, बिलासपुर से विश्वेश ठाकरे और सतीश जायसवाल, बस्तर से मंगल कुंजाम शामिल हैं।


साल भर पहले मधेपुरा में आयोजन की खबर… पढ़ने के लिए क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *